Monday, January 25, 2016

Netaji Subhash Chandra Files-Facts



मित्रों! नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा नेताजी पर फाइलों को कांग्रेसियों द्वारा पिछ
ले 70 सालों से जो रहस्य बनाकर रखा गया था,हटा दिया गया है।अब सब कुछ सामने है। इनके अध्य्यन के साथ जो बड़ी चीज़ें निकल कर आएँगी।एक सीरीज में मैं आप लोगों के साथ शेयर करूँगा।बस आप शेयर करके औरों तक पहुचाएं।
साभार www.netajipapers.gov.in पोर्टल





मक्कार एैयाश नेहरु के अंग्रेज प्रधानमंत्री को लिखे इस पत्र से दो बाते तो साफ हो जाती है-
1. नेहरु अंग्रेज सरकार का एजंट था, जीसने अाझादी के पहले अंग्रेजो से साठगाठ कर रखी थी. उसिने दुसरे क्रांतिकारी जैसे भगत सिंह, चंद्रशेखर अाझाद, सुखदेव अादीयो को मरवाया. इसीके बदले मे अंग्रेजो ने भारत छोडते वक्त नेहरु को प्रधानमंत्री बनाया.
2. मक्कार नेहरु जब अंग्रेजो को लिखे पत्र मे कह रहा है की सुभाषचंद्र बोस 'युद्ध अपराधी' है, मतलब असलियत मे अंग्रेजो से युद्ध सुभाषचंद्र बोस ही कर रहे थे, ...अाैर नेहरू तो अंग्रेजो का दलाल खबरी था.
खबर यहा तक है, की सुभाषचंद्र बोस को भारत मे न आने देने मे एवं विदेश मे ही मरवाने मे मक्कार नेहरु का ही हाथ था, जिसमे गांधी का भी सहयोग था.
काँग्रेस ने लिखे इतिहास मे गांधी, नेहरु जैसे अंग्रेजो के दलाल ही अाजादि के हिरो बताये गये, अाैर असली अाझादी के विरो को अपराधी बताया गया. पर, अब मोदीराज मे सच्चायी सामने आकर ही रहेगी.


 


From Sanjay Dwivedi ji.