Thursday, October 29, 2015

Gurukul seems will come back

वैदिक एजुकेशन बोर्ड को P M  मोदी की मंजूरी, 12वीं तक अनिवार्य होगी संस्कृत

योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि मोदी सरकार जल्द ही वैदिक एजुकेशन बोर्ड बनाने जा रही है। उन्होंने कहा कि वैदिक बोर्ड सेंट्रल बोर्ड ऑफ एजुकेशन (सीबीएसई) की देखरेख में बनाया जाएगा।

रामदेव ने दावा किया है कि इस प्रस्ताव से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सहमत हैं। उन्होंने कहा कि ‘योग क्रांति’ के बाद अब ‘शिक्षा क्रांति’ लाने की जरूरत है। हमें शिक्षा का भारतीयकरण करना होगा।

रामदेव ने कहा कि थॉमस बेबिंग्टन ने साजिश के तहत भारतीय गुरुकुल परंपरा को खत्म किया था। उन्होंने करीब 7,32,000 गुरुकुल नष्ट कर दिए थे, लेकिन अब हम बदलाव के लिए तैयार हैं। शुरुआत में हम साल लाख तो नहीं, लेकिन 700 गुरुकुल तो शुरू कर सकते हैं।

रामदेव ने कहा कि गुरुकुल में हमारे छात्र अंग्रेजी के साथ मातृ भाषा भी सीखेंगे और साथ ही दुनिया की सभी भाषाओं की मूल स्रोत संस्कृत भी पढ़ेंगे। यह कार्य वैदिक एजुकेशन बोर्ड करेगा।

रामदेव ने कहा कि नर्सरी से लेकर 12वीं क्लास संस्कृत अनिवार्य की जाएगी। उन्होंने कहा कि वैदिक बोर्ड वेद, उपनिषद, रामायण, महाभारत के साथ आयुर्वेद की भी शिक्षा देगा। ये सभी कोर्स मॉडर्न तरीके से पढ़ाए जाएंगे।
 
Link:
http://www.jansatta.com/national/govt-to-set-up-vaidik-education-board-says-ramdev/46243/
 
योग गुरु बाबा रामदेव की सिफारिश पर बहुत जल्द वैदिक शिक्षा बोर्ड बनाया जाएगा जिसके अनुसार केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएससी) संस्कृत में वेद, रामायण, महाभारत, आर्युवेद 12वीं क्लास तक पढ़ाएगा. 
 
बाबा रामदेव ने सोमवार को कहा कि केंद्र बहुत जल्द वैदिक शिक्षा बोर्ड लेकर आ रहा है इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हरी झंडी़ पहले ही मिल चुकी है. बाबा रामदेव का कहना है कि बोर्ड में नई नीतियां लाई जा रहीं है जिससे बदलाव देखने को मिलेंगे. 

Link:
http://www.inkhabar.com/other/8412-baba-ramdev-told-ramayan-mahabhart-will-teach-soon-in-schools