Sunday, September 13, 2015

जागो हिन्दुस्तानी Beware of Vatican conversion-Worse than Islam.

💥प्रश्न - साधू-संतो के पास करोड़ो की संपत्ति है । साधू-संतो को इतनी संपत्ति की क्या जरुरत है? साधू को तो अपरिग्रही होना चाहिए ?

​​💥उत्तर : रोमन केथोलिक चर्च का एक छोटा राज्य है जिसे वेटिकन बोलते है । अपने धर्म के प्रचार के लिए वे हर साल​ 171,600,000,000
डॉलर खर्च करते है । तो उनके पास कुल कितनी संपत्ति होगी?

💥वेटिकन के किसी भी व्यक्ति को पता नहीं है कि उनके कितने व्यापार चलते है ।
💥रोम शहर में 33% इलेक्टोनिक, प्लास्टिक, एर लाइन, केमिकल और इंजीनियरिंग बिजनेस वेटिकन के हाथ में है ।
💥दुनिया में सबसे बड़े shares​ वेटिकन के पास है ।
💥इटालियन बैंकिंग में उनकी बड़ी संपत्ति है और अमेरिका एवं स्विस बेंको में उनकी बड़ी भारी deposits है ।
💥ज्यादा जानकारी के लिए पुस्तक पढाना जिसका नाम है VATICAN EMPIRE

💥उनकी संपत्ति के आगे आपके भारत के साधुओं के करोड रुपये कोई मायना नहीं रखते ।

💥वे लोग खर्च करते है विश्व में धर्मान्तरण करके लोगों को अपनी संस्कृति, और धर्म से भ्रष्ट करने में 🚩और भारत के संत खर्च करते है लोगों को शान्ति देने में, उनकी स्वास्थ्य सेवाओं में, आदिवासियों और गरीबों की सेवा में, प्राकृतिक आपदा के समय पीडितों की सेवा में और अन्य लोकसेवा के कार्यों में ।

💥http://goo.gl/Pc1fhn
✨- डॉ.प्रेमजी
💥देखिये वीडियो
💻- https://youtu.be/uH40OaPPoSE
🚩Official
Jago hindustani
Visit
👇👇👇
💥Youtube - https://goo.gl/J1kJCp
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot - http://goo.gl/1L9tH1
💥Twitter - https://goo.gl/iGvUR0
💥FB page - https://goo.gl/02OW8R
 http://www.patheos.com/blogs/friendlyatheist/2012/08/17/the-economist-estimates-the-catholic-church-spent-171600000000-in-2010/